Clarification on Pay Fixation & Choosing Right Option in 7th CPC.

7 वे वेतन आयोग में वेतन निर्धारण एवं विकल्प (ऑप्शन) पर स्पष्टता ।

साथियों! एक “भ्रम” ऐसा फैला है कि 7वें वेतन आयोग में इन्क्रीमेंट 1 जनवरी से लेना है कि 1 जूलाई से इसके लिए “सभीको” ऑप्शन फॉर्म भरना है और जो लोग जनवरी से जून के बीच रिटायर होंगे उनको जनवरी में इन्क्रीमेंट लेना फायदेमंद होगा क्योंकि उन्हें जनवरी में लेने से एक इन्क्रीमेंट ज्यादा मिल जायेगा जबकि ऐसा कत्तई नही है। जनवरी और जूलाई – 2 इन्क्रीमेंट की शर्तें केवल 01.1.16 के बाद की पद्दोन्नति, नई भर्ती एवं MACP Case में ही लागू होगी ।

(Option) ऑप्शन किस बात का लेना है ?

आप सभी को मालूम है कि 7वां वेतन अगस्त 2016 से लगने जा रहा है जिसमे सभी के 01.01.16 के दिन जो 6ठवां वेतन की पगार होगी उसमे 2.57 से गुणा करके जितना अमाउंट आयेगा उसके बाद कर्मचारी जिस लेवल में होगा उस लेवल की मैट्रिक्स में जाकर उसके बराबर अथवा नही बराबर है तो उसके जस्ट बाद वाले लेवल पर फिक्स किया जायेगा फिर 01जुलाई को 3% इन्क्रीमेंट दिया जायेगा जो ₹100 के गुणांक में होगा जैसे ₹49 या कम को 00 और 50 से 99 को ₹100 के पूर्णाक में दिया जायेगा।

उदाहरण: एक कर्मचारी का बेसिक 01.01.16 को ₹26450 है और कर्मचारी PB2+ GP4800 में है तो उसकी पगार निम्न तरह से फिक्स होगी।

01.01.16= 26450×2.57=67977 फिर इस स्केल के बराबर लेवल 8 में जाकर देखेंगे तो पगार ₹68000/ पे फिक्स होगी और 01 जुलाई 16 को अगले इन्क्रीमेंट के बाद उनकी पगार 70000/ होगी जबकि अगर वही कर्मचारी अपना पे फिक्सेशन 30 जून 2016 तक 6th CPC के पगार में रहते हुए अपना फिक्सेशन 01.07.16 को करवाते है तो निम्न होगा।

01.01.16 को पगार: 26450+3%=27250/

7th CPC फिक्सेशन: 27250 x 2.57= 70032/-

अब लेवल 8 में जाकर देखेंगे तो इनकी पगार का अगला स्टेज ₹72100/ होगा।

अतः इस कर्मचारी को जुलाई में फिक्सेशन लेने से फायदा होगा (72100-70000=2100 प्रति माह बेसिक में जो उत्तरोत्तर बढ़ता जायेगा जीवन पर्यंत फायदा ) 

यही ऑप्शन भरने की बात रेलवे के गजेट नोटिफिकेशन के तहत दिया है और एक अंडरटेकिंग है कि यदि Arrears में कुछ ज्यादा मिल गया तो काट अथवा भविष्य के तनख्वाह में एडजस्ट किया जायेगा।

अतः कृपया दोनों तारीखों को अपना फिक्सेशन चेक करके ही लाभदायक ऑप्शन लेंवें क्योंकि ऑप्शन एक बार ही अंतिम मान्य होगा। ज्यादातर केस (लगभग 98%) में 01 जनवरी 16 से 7वां वेतन लेने में ही फायदा है सिवाय ऊपर बताई हुयी कुछ अपवादित केसों को छोड़ |

Note: Above information is as per personal practice. Consult your department before adopting any option. We are not responsible for any personal or financial loss. 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *